कारोबार में सफलता व निसंतान जोड़ो के लिए बन रहा है एक अदबुद्ध योग।





26 मई 2018 को एक अद्बुध योग बन रहा है जिसे शनि प्रदोष व्रत के रूप में जाना जाता है जिसका ज्योतिष विज्ञान में एक अनूठा महत्त्व है।

जैसा की इस व्रत का नाम है शनि प्रदोष व्रत तो यह व्रत शनिवार के दिन पड़ेगा और शनि से परेशान लोगो के लिए एक वरदान स्वरुप साबीत होगा। इस दिन शनि से परेशान लोग शनि यंत्र को धारण करके अपनी सभी परेशानियों से निजात पा सकते है।

कौन और क्यों पहने यह यंत्र?
1. मुकदमा

जिन लोगो के ऊपर किसी प्रकार का मुकदमा चल रहा है या आये दिन कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने पड़ रहे है उन लोगो को शनि यंत्र मुक़दमे में जीत की तरफ ले जाने सहायक होता है।

2. नौकरी

जो लोग छोटे काम करते है और जिन्हे बहुत परिश्रम के बाद भी सफलता नहीं मिलती उन लोगो को भी शनि का यंत्र धारण करके अपनी परेशानी से निजात पानी चाहिए।

3. कारोबार में सफलता

यदि आपको आपके कारोबार में सफलता नहीं मिल पा रही या काम होते होते खराब हो जाते है या आप हमेशा अपने कर्मचारियों के कारण परेशान रहते है तो भी शनि यंत्र आपके लिए राम बाण उपाय के रूप में काम करेगा।

4. शनि साडे साती, महादशा, अंतर्दशा, ढैय्या

यदि आप शनि की साडे साती, महादशा, अन्तर्दशा या ढय्या से झूझ रहे तब भी आपको शनि यंत्र आपकी तकलीफो में बहुत मददगार साबित होगा।

यह दिन पुत्रार्थियों ( पुत्र संतान की इच्छा रखने वाले)/ संतान की इच्छा रखने वालो के लिए वरदान स्वरुप साबित होगा। यदि कोई निसंतान जोड़ा या पुत्र संतान की कामना करने वाला जोड़ा इस दिन व्रत रखे और संतान सुख यंत्र को पूर्ण इच्छा से धारण करे तो भगवन उनकी सूनी कोख जल्द ही भरने का काम करते है।

यदि आप किसी परेशानी से जूझ रहे है और शनि यंत्र मंगवाना चाहते है तो अभी संपर्क करे 9582118889

यंत्र की विशेषताएं।
1आचार्य इंदु प्रकाश जी की देख रेख में सिद्ध किया हुआ यंत्र।
2. 26 मई 2018 को पहनने का विशेष महत्त्व।
3. सुपर फ़ास्ट डिलीवरी।

अपने दुखो से निजात पाने के लिए अभी संपर्क करे  9582118889



Popular posts from this blog

जानिये ज्योतिषशास्त्र के अनुसार क्यों आती है व्यवसाय में बाधायेँ ।

जानिए आपकी जन्मकुंडली का आपके भाग्य से क्या संबंध है।